Agrasen

 

बारह महीनों की व्रत कथाएँ

Ranjan Agrawal   March 16, 2022 6:34 am

बारह महीनों की व्रत कथाएँ

1. चैत्र का महीना
यह हिंदू कैलेंडर का पहला महीना है। इसी महीने से गर्मी का मौसम शुरू हो जाता है। अंग्रेजी कैलेंडर के अनुसार यह महीना मार्च-अप्रैल में पड़ता है।

2. बैसाखी का महीना

यह हिंदू कैलेंडर का दूसरा महीना है। यह महीना अंग्रेजी कैलेंडर के अप्रैल-मई के महीने में आता है। पंजाब में, बैसाखी की कटाई का त्योहार इसी महीने में आता है।

3. ज्येष्ठ का महीना

ज्येष्ठ का महीना बेहद गर्म होता है। यह अंग्रेजी कैलेंडर के अनुसार मई-जून में पड़ता है। इस महीने में कई त्योहार मनाए जाते हैं।

4. आषाढ़ का महीना

अंग्रेजी कैलेंडर के अनुसार यह महीना जून-जुलाई में पड़ता है। तमिल में इस महीने को आदि कहा जाता है।

5. श्रवण का महीना

हिन्दू पंचांग के अनुसार सावन का महीना सबसे पवित्र माना जाता है। यह महीना जुलाई-अगस्त में पड़ता है। इस महीने से कई त्योहार शुरू हो जाते हैं।

6. भाद्रपद का महीना

भादों या भाद्रपद अगस्त-सितंबर के महीने में पड़ता है। इस महीने में तीज, गणेश चतुर्थी और कई अन्य त्योहार आते हैं।

7. अश्विन का महीना

अंग्रेजी कैलेंडर के अनुसार यह महीना सितंबर-अक्टूबर में पड़ता है। इस महीने में नवरात्रि, विजयदशमी, दिवाली आदि त्योहार आते हैं।

8. कार्तिक का महीना

अंग्रेजी कैलेंडर के अनुसार यह महीना अक्टूबर-नवंबर में पड़ता है। इस महीने में गोवर्धन पूजा भाई दूज आदि त्योहार मनाए जाते हैं।

9. मार्गशीर्ष का महीना

अंग्रेजी कैलेंडर के अनुसार यह महीना नवंबर-दिसंबर में पड़ता है। इस महीने में मोक्ष एकादशी का पर्व मनाया जाता है।

10. पौष का महीना

पौष का महीना दिसंबर-जनवरी के समय में पड़ता है जिसमें अत्यधिक ठंड पड़ती है। इस महीने में लोहड़ी, मकर संक्रांति जैसे कई त्योहार मनाए जाते हैं।

11. माघी का महीना

यह महीना अंग्रेजी कैलेंडर के जनवरी-फरवरी के महीने में आता है। इस महीने में बसंत पंचमी, महाशिवरात्रि आदि त्योहार मनाए जाते हैं।

12. फाल्गुन का महीना

यह महीना अंग्रेजी कैलेंडर के फरवरी-मार्च के महीने में आता है। फाल्गुन पूर्णिमा के दिन भारत में रंगों का त्योहार होली बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है।

महीने में आने वाले त्योहार Festivals coming in the month-

1- चैत्र – गणेश संकट चतुर्थी, गुढी पड़वा, श्री राम नवमी, हनुमान जयंती

2- वैशाख- गणेश चतुर्थी, परशुराम जयंती, बुद्ध पूर्णिमा

3- ज्येठ- विंध्यवासनी पूजा, गंगा दशहरा, शिव राज्याभिषेक दिवस, वट पूर्णिमा

4- आषाढ़- दक्षिणायन ,वर्षा ऋतू , आषाढ़ अमावस्या, खारग्रास सूर्यग्रहण,आषाढ़ी एकादशी, गुरु पूर्णिमा

5- श्रावन- नागपंचमी, श्रवण पूर्णिमा, रक्षाबंधन, हरियाली तीज

6- भाद्रपद- जन्माष्टमी, गोपालाष्टमी, हरतालिका तृतीया, गौरी व्रत, अनंत चतुर्दशी, श्राद का आरम्भ

7- आश्विन- आश्विन अमावस्या श्राद का समापन, घटस्थापना,दशहरा ,आश्विन पूर्णिमा ,बाल्मीकि जयंती,शरद पूर्णिमा

8- कार्तिक- धनदर्योदशी ,नरक चतुर्दशी ,लक्ष्मी पूजा दीपावली, भाई दूज, गुरु नानक जयंती ,तुलसी विवाह

9- मार्गशीर्ष- श्रीदत्त जयंती

10- पौष- लोहड़ी, मकर संक्रांति

11- माघ- मौनी अमावस्या, वसंत ऋतू प्रारम्भ

12- फाल्गुन- महाशिवरात्रि, होली, धुलेंडी

COMMENTS


Help-Line(हेल्पलाइन):9973159269  | 7004230135






Scroll to Top