Agrasen

Narnauliya Agrawal Samaj
वर्तमान परिवेश को देखते हुए आने वाले समय में शादी विवाह का स्वरूप कैसा होना चाहिए

वर्तमान परिस्थितियों में जहां हम एक तरफ करोना अथवा अन्य समस्याओं से जूझ रहे हैं वही खर्चीली शादियां समाज के एक बड़े वर्ग के लिए चिंता का विषय होता जा रहा है कई बार इसके सार्थक समाधान दिए जाने के संदर्भ में चर्चा की जरूरत पड़ी है परंतु समय के अभाव एवं पर्याप्त साधनों के अभाव में इस पर विस्तृत चर्चा कभी भी नहीं हो पाई संभवत इस प्लेटफार्म से हम समाज के एक बड़े वर्ग का इस संबंध में विचार जान सकेंगे और उसके हिसाब से जरूरत अनुसार फेरबदल कर सकेंगे अतः हम अपेक्षा करते हैं इस समाज का वह बुद्धिजीवी वर्ग सामने आकर इस विषय में अपनी राय जरूर दें

COMMENTS


visitor counter
Scroll to Top